Tumsa Koi Pyara Song Lyrics

Tumsa Koi Pyara Song Lyrics
Khuddar (1994)

Alka Yagnik, Kumar Sanu

Barsat ka mosam yaha hum yaha tum
Sajni ko milgaye sajan sajan sajan

Tumsa koi pyara koi masum nahi hai
Kya cheez ho tum khud tumhe malum nahi hai
Lakho hai magar tumsa yaha kaun hasi hai
Tum jan ho meri tumhe malum nahi
Tumsa koi pyara koi masum nahi hai
Kya cheez ho tum khud tumhe malum nahi hai
Lakho hai magar tumsa yaha kaun hasi hai
Tum jan ho meri tumhe malum nahi
Tumsa koi pyara koi masum nahi hai
Kya cheez ho khud tumhe malum nahi hai
Tumsa koi pyara koi masum nahi hai
Kya cheez ho tum khud tumhe malum nahi hai

So phool khile jab ye khila rup sunhara
So chand bane jab ye bana chand sa chehra
So phool khile jab ye khila rup sunhara
So chand bane jab ye bana chand sa chehra
Itna bhi koi pyar ki raho me gum na ho
Bas hosh hai itna mere sath me tum ho
Itna bhi koi pyar ki raho me gum na ho
Bas hosh hai itna mere sath me tum ho
Mere sath me tum ho, mere sath me tum ho
Dhadkan hai kahi dil hai kahi jan kahi hai
Tum jan ho meri tumhe malum nahi hai
Ye chandani in ankho ka saya to nahi hai
Kya cheez ho khud tumhe malum nahi hai
Tumsa koi pyara koi masum nahi hai
Kya cheez ho tum khud tumhe malum nahi hai
Tumsa koi pyara koi masum nahi hai
Kya cheez ho tum khud tumhe malum nahi hai

Recommended for you  Download Mai Chahta Hu Tujhko Dilo Jaan Ki Tarah Mp3 Song Lyrics

Ye hoth ye palke ye nighahe ye adaye
Miljaye khuda mujhko to mai lelu balaye
Dunia ka koi bhi ghum mere pas na hoga
Tum sath mein chaloge to ye ahsas na hoga
Ye ahsas na hoga, ye ahsas na hoga
Akash hai humare pairo mein ke jami hai
Tum jan ho meri tumhe malum nahi
Aisa koi mahbub jamane mein nahi hai
Kya cheez ho tum khud tumhe malum nahi hai
Lakho hai magar tumsa yaha kaun hasi hai
Tum jan ho meri tumhe malum nahi
Tumsa koi pyara koi masum nahi hai
Kya cheez ho khud tumhe malum nahi hai
Tumsa koi pyara koi masum nahi hai
Kya cheez ho tum khud tumhe malum nahi hai.

बरसात का मौसम , यहाँ हम यहाँ तुम 
सजनी को मिल गए  साजन ,साजन, साजन 

तुमसा कोई प्यारा कोई मासूम नहीं है 
क्या चीज़ हो तुम खुद तुम्हे मालूम नहीं है 
लाखो है मगर , तुमसा यहाँ कौन हंसी है 
तुम जान हो मेरी तुम्हे मालूम नहीं है 
तुमसा कोई प्यारा कोई मासूम नहीं है 
क्या चीज़ हो तुम खुद तुम्हे मालूम नहीं है 
लाखो है मगर , तुमसा यहाँ कौन हंसी है 
तुम जान हो मेरी तुम्हे मालूम नहीं है
तुमसा कोई प्यारा कोई मासूम नहीं है
क्या चीज़ हो तुम खुद तुम्हे मालूम नहीं है 
तुमसा कोई प्यारा कोई मासूम नहीं है
क्या चीज़ हो तुम खुद तुम्हे मालूम नहीं है 

सौ फूल खिले जब ये खिला रूप सुनेहरा 
सौ चाँद बने जब ये बना चाँद सा चेहरा 
सौ फूल खिले जब ये खिला रूप सुनेहरा 
सौ चाँद बने जब ये बना चाँद सा चेहरा 
इतना भी कोई प्यार की राहों  में गुम ना हो  
बस होश है इतना मेरे साथ में तुम हो 
इतना भी कोई प्यार की राहों में गुम ना हो 
बस होश है इतना मेरे साथ में तुम हो 
मेरे साथ में तुम हो , मेरे साथ में तुम हो 
धड़कन है कही दिल है कही जान है कही 
तुम जान हो मेरी तुम्हे मालूम नहीं है 
ये चांदनी इन आँखों का साया तो नहीं है 
क्या चीज हो खुद तुम्हे मालूम नहीं है 
तुमसा कोई प्यारा कोई मासूम नहीं है 
क्या चीज हो तुम खुद तुम्हे मालूम नहीं है 
तुमसा कोई प्यारा कोई मासूम नहीं है 
क्या चीज हो तुम तुम्हे खुद तुम्हे मालूम नहीं है 

Recommended for you  Kal College Bandh Ho Jayega Lyrics

ये होठ ये पलके ये निघएं ये अदाएं 
मिल जाये खुदा मुझको तो मै लेलु बलाएँ 
दुनिया का कोई गम मेरे पास ना होगा 
तुम साथ में चलोगे तो ये अहसास ना होगा 
ये एहसास ना होगा , ये एहसास ना होगा  
आकाश है हमारे पैरो में की जमी है 
तुम जन हो मेरी तुम्हे मालूम नहीं है 
ऐसा कोई महबूब ज़माने में नहीं है 

 क्या चीज़ हो तुम खुद तुम्हे मालुम नहीं है 
लाखों है मगर तुमसा यहाँ कौन हसी हैं 
तुम जान हो मेरी तुम्हे मालूम नहीं है 
तुमसा कोई प्यारा कोई मासूम नहीं है 
क्या चीज़ हो खुद तुम्हे मालूम नहीं है 
तुमसा कोई प्यारा कोई मासूम नहीं है 
क्या चीज़ हो तुम खुद तुम्हे मालुम नहीं है 

19072total visits,11visits today

Tagged .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *