Dekha Ek Khwaab to Yeh Silsile Hue Song Lyrics

Dekha ek khwaab to yeh silsile hue
door tak nigahon mein hain gul khile hue
Dekha ek khwaab to yeh silsile hue
door tak nigahon mein hain gul khile hue
yeh gila hai aapki nigahon se
phool bhi ho darmiyaan to faasle hue
dekha ek khwaab...

meri saanson mein basi khushboo teri
yeh tere pyaar ki hai jadugari
teri aawaz hai hawaaon mein
pyar ka rang hai phizaaon mein
dhadkanon mein tere geet hain mile hue
kya kahun ke sharm se hain lub sile hue
dekha ek khwaab...

mera dil hai teri panaahon mein
aa chhupa loon tujhe main baahon mein
teri tasveer hai nigaahon mein
door tak roshni hai raahon mein
kal agar na roshni ke kaafile hue
pyar ke hazaar deep hain jale hue
dekha ek khwaab...

देखा एक ख्वाब तो ये सिल सिले हुए
दूर तक निगाहों में हैं गुल खिले हुए
देखा एक ख्वाब तो ये सिल सिले हुए
दूर तक निगाहों में हैं गुल खिले हुए
ये गिला है आपकी निगाहों से
फूल भी हो दरमियाँ तो फासले हुए
देखा एक ख्वाब 

मेरी साँसों में बसी खुशबू तेरी
ये तेरे प्यार की है जादूगरी
तेरी आवाज है हवाओं में
प्यार का रंग है फिजाओं में
धडकनों में तेरे गीत हैं मिले हुए
क्या कहूं की शर्म से हैं लब सिले हुए
देखा एक ख्वाब ..........

मेरा दिल है तेरी पनाहों में
आ छुपा लूं तुझे में बाँहों में
तेरी तस्वीर है निगाहों में
दूर तक रौशनी है राहों में
कल अगर ना रौशनी के काफिले हुए
प्यार के हजार दीप हैं जले हुए
देखा एक ख्वाब ......

Recommended for you  Dafli Wale Dafli Baja Lyrics in Hindi

1124total visits,3visits today

Tagged , , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *