दिल की ये आरज़ू थी Dil Ki Ye Arzoo Thi Lyrics in Hindi

Dil ki ye aarazu thi koi dilarubaa mile
Dil ki ye aarazu thi koi dilarubaa mile
Lo ban gayaa nasib ke tum ham se aa mile
Dil ki ye aarazu thi koi dilarubaa mile

Dekhe hame nasib se ab, apane kyaa mile
Dekhe hame nasib se ab, apane kyaa mile
Ab tak to jo bhi dost mile, bevafaa mile
Ab tak to jo bhi dost mile, bevafaa mile

Aankho ko ik ishaare ki zahamat to dijiye
Kadamo me dil bichhaadun ijaazat to dijiye
Gam ko gale lagaalun jo gam aap kaa mile
Gam ko gale lagaalun jo gam aap kaa mile
Dil ki ye aarazu thi koi dilarubaa mile
Dil ki ye aarazu thi koi dilarubaa mile

Hamne udaasiyo me guzaari hai zindagi
Hamne udaasiyo me guzaari hai zindagi
Lagataa hai dar fareb bevafaa se kabhi kabhi
Lagataa hai dar fareb bevafaa se kabhi kabhi
Aisaa na ho ki zakm koi phir nayaa mile
Aisaa na ho ki zakm koi phir nayaa mile
Ab tak to jo bhi dost mile bevafaa mile

Kal tum judaa hue the jahaan saath chhod kar
Ham aaj tak khade hai usi dil ke mod par
Ham ko is intazaar kaa kuchh to silah mile
Ham ko is intazaar kaa kuchh to silah mile
Dil ki ye aarazu thi koi dilarubaa mile
Dil ki ye aarazu thi koi dilarubaa mile

Dekhe hame nasib se ab, apane kyaa mile
Ab tak to jo bhi dost mile bevafaa mile
Ab tak to jo bhi dost mile bevafaa mile

Recommended for you  Tum Mere Ho Tum Dil se Kaho Tum Saath Mere Har Pal Raho

दिल की ये आरजू थी कोई दिलरुबा मिले
दिल की ये आरजू थी कोई दिलरुबा मिले
लो बन गया नसीब के तुम हम से आ मिले
दिल की ये आरजू थी कोई दिलरुबा मिले

देखे हमें नसीब से अब , अपने क्या मिले
देखे हमें नसीब से अब , अपने क्या मिले
अब तक जो भी दोस्त मिले बेवफा मिले
अब तक जो भी दोस्त मिले बेवफा मिले

आँखों को इक इशारे की ज़हमत तो दीजिये
कदमो में दिल बिछा दूँ इजाजत तो दीजिये
गम को गले लगा लूँ जो गम आप का मिले
गम को गले लगा लूँ जो गम आप का मिले
दिल की ये आरजू थी कोई दिलरुबा मिले
दिल की ये आरजू थी कोई दिलरुबा मिले

हमने उदासियों में गुजारी है ज़िन्दगी
हमने उदासियों में गुजारी है ज़िन्दगी
लगता है डर फरेब ए बेवफा से कभी
लगता है डर फरेब ए बेवफा से कभी
ऐसा ना हो की ज़ख्म कोई फिर नया मिले
ऐसा ना हो की ज़ख्म कोई फिर नया मिले
अब तक तो जो भी दोस्त मिले बेवफा मिले

कल तुम जुदा हुए थे जहां साथ छोड़ कर
हम आज तक खड़े हैं उसी दिल के मोड़ पर
हम को इस इंतज़ार का कुछ तो सिला मिले
हम को इस इंतज़ार का कुछ तो सिला मिले
दिल की ये आरजू थी कोई दिलरुबा मिले
दिल की ये आरजू थी कोई दिलरुबा मिले

देखे हमें नसीब से अब अपने क्या मिले
अब तक तो जो भी दोस्त मिले बेवफा मिले
अब तक तो जो भी दोस्त मिले बेवफा मिले

Recommended for you  Upar Pahad Neeche Kankar Hai Shankar Bhajan Lyrics in Hindi

890total visits,3visits today

Tagged , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *