Lene Se Inkar Nahi Lyrics in Hindi

Song : Lene Se Inkar Nahi
Singer : Mohammed Rafi
Movie : Amar Deep (1958)
Lyrics : Rajendra Krishan

lene se inkar nahi or dene ko tyar nahi
lene se inkar nahi or dene ko tyar nahi
is dunia me kon hai aisa
jo paise ka yar nahi jo paise ka yar nahi
lene se inkar nahi or dene ko tyar nahi
is dunia me kon hai aisa
jo paise ka yar nahi jo paise ka yar nahi

hai paisa aage aage or dunia piche bhage
pr paisa bada chalawa hai sare jag ka bawa
ek jagah par rukne ko ji rukne ko tyyar nahi
rukne ko tyyar nahi lene se inkar nahi or
dene ko tyar nahi is dunia me kon hai aisa
jo paise ka yar nahi jo paise ka yar nahi

jo daulat hai bimari par lage sabko pyari
jo daulat hai bimari par lage sabko pyari
iski khatir kisi ne pagdi kisi ne biwi bhi hari
biwi bhi har gaya bechara kisi ne biwi hari
lekin jeet sada paise ki kabhi bhi iski har nahi
kabhi bhi iski har nahi lene se inkar nahi or
dene ko tyar nahi is dunia me kon hai aisa
jo paise ka yar nahi jo paise ka yar nahi

ye mile chalane wala yahi chor banane wala
man yahi hai shan yahi hai kare yahi muh kala
muh bhi to kala hota hai kare yahi muh kala
kalyug me to isse badhkar koi bada awtar nahi
koi bada awtar nahi lene se inkar nahi or
dene ko tyar nahi is dunia me kon hai aisa
jo paise ka yar nahi jo paise ka yar nahi

Recommended for you  Kali Ghata Chhayi Prem Rut Aayi Lyrics in Hindi

लेने से इंकार नहीं और देने को तैयार नहीं
लेने से इंकार नहीं और देने को तैयार नहीं
इस दुनिया में कौन है ऐसा
जो पैसे का यार नहीं जो पैसे का यार नहीं
लेने से इंकार नहीं और देने को तैयार नहीं
इस दुनिया में कौन है ऐसा
जो पैसे का यार नहीं जो पैसे का यार नहीं

है पैसा आगे आगे और दुनिया पीछे भागे
पर पैसा बड़ा छलावा है सरे जग का बावा
एक जगह पर रुकने को जी रुकने को तय्यार नहीं
रुकने को तय्यार नहीं लेने से इंकार नहीं और
देने को तय्यार नहीं इस दुनिया में कौन है ऐसा
जो पैसे का यार नहीं जो पैसे का यार नहीं

जो दौलत है बीमारी पर लग सबको प्यारी
जो दौलत है बीमारी पर लग सबको प्यारी
इसकी खातिर ने किसी ने पगड़ी किसी ने बीवी भी हारी
बीवी भी हार गया बेचारा किसी ने बीवी हरी
लेकिन जीत सदा पैसे की कभी भी इसकी हार नहीं
कभी भी इसकी हार नहीं लेने से इनकार नहीं और
देने को तय्यार नहीं इस दुनिया में कौन है ऐसा
जो पैसे का यार नहीं जो पैसे का यार नहीं

ये मिले चलाने वाला यही चोर बनाने वाला
मान यही है शान यही है करे यहीं मुह काला
मुह भी तो काला होता है करे यही मुह काला
कलयुग में तो इससे बढ़कर कोई बड़ा अवतार नहीं
कोई बड़ा अवतार नहीं लेने से इनकार नहीं और
देने को तय्यार नहीं इस दुनिया में कौन है ऐसा
जो पैसे का यार नहीं जो पैसे का यार नहीं

Recommended for you  Angdaiya Leti Hoon Main Song Lyrics

638total visits,1visits today

Tagged .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *